(प) से सम्बंधित सपने


परी देखना – सफलता मिले , स्वस्थ्य लाभ हो , मान सम्मान में वृद्धि हो , धन बढे

पहाड़ देख्ना – शत्रु पर विजय हो

पम्प से पानी निकालना – व्यवसाय में रुकावट आये

प्रसाद बाँटना – रोग कम हो , समृध्धि बढे

पहाड़ पर चढ़ना – मान सम्मान तथा धन बढे

पहाड़ से उतरना -व्यापार में मंदा हो

परदेशी देखना – मनोकामना पूरण हो

पटका बांधना – मान सम्मान तथा धन बढे

पटाखा देखना – ख़ुशी मिले

पलंग देखना – अपमानित होना पड़े

पनघट सूना देखना – कही से निमंत्रण आये

पनघट पर भीड़ देखना – परिवार में उत्सव हो

परिवार देखना – शुभ फल मिले

पनीर खाना – धन वृद्धि हो

पपीता खाना – पेट खराब हो

पहरेदार देखना – चोरी की सम्भावना

पंजीरी खाना – बीमारी आने की सूचना

परछाई देखना अशुभ समाचार

पगड़ी देखना – धन हानि हो

पर्दा सफेद देखना – मान – सम्मान में हानि

पर्दा काला देखना – धन वृद्धि हो

पर्स देखना – गुप्त कार्य पूरा हो

पहिया देखना – प्रगति तेज हो

पंडाल देखना – किसी बड़े उत्सव में शामिल होना

पत्तल देखना या उसमें खाना -शुभ लक्षण

पत्थर देखना या मारना – सरकार से लाभ हो

पत्र लिखना – परेशानी हो

प्याज खाना या खिलाना – दुर्भाग्य पूर्ण घटना घटे

प्रशंसा सुनना – अशुभ संकेत

प्रसाद बाँटना – शुभ फल मिले

प्याऊ बनवाना – धन वृद्धि हो

परीक्षा में बैठना – कार्य में असफलता

पतंग उडाना – लम्बी यात्रा हो

पढ़ना या पढाना – काम में सफलता

पकवान खाना या बनाना – दुखो में वृद्धि हो

पहिया देखना – यात्रा सफल हो

पानी देखना – सुख समृधि बढे

पानी पीते देखना – धन वृद्धि हो

पोलिश करना -नौकरी में तरक्की हो

पान का वृक्ष देखना – संतान की समृधि हो

पागल देखना – शुभ कार्य में वृद्धि हो

पानदान देखना – मित्रता में वृद्धि हो

पाउडर लगाना – मान सम्मान बढे

पार्वती माता देखना – सुख समृधि बढे

पायल बजते देखना – स्त्री से वियोग हो

पारितोषिक मिलना – अपमानित होना पढ़े

पालकी पर बैठना – स्वस्थ्य खराब हो

पालना देखना – पारिवारिक सुख मिले

पालना झुलाना – संतान के लिए कष्ट बढे

पार्सल लेना – अचानक लाभ मिले

पाताल देखना – मान सम्मान बढे , प्रशंसा मिले

पाद मरना या अनुभव करना – व्यापार में लाभ हो व्यवसायिक यात्रा

पार करना (तैरकर) – मान सम्मान बढे

पिटारा देखना – धन लाभ हो

पिजरा देखना – स्वस्थ्य खराब हो

पिजरा खाली देखना – धन वृद्धि हो

पिजरे में पक्षी देखना – गृह कलेश हो

पीपल देखना – शुभ सन्देश मिले

पीला रंग देखना स्वास्थ्य खराब हो

पीठ देखना – मित्र से लाभ हो

पीतल के बर्तन देखना – धन लाभ हो , व्यापार बढे

पीली सरसों देखना – सब प्रकार से शुभ हो

पुस्तकालय देखना – समृधि बढे

पुस्तक खोना – मानहानि हो

पुस्तक मिलना – मान सम्मान में वृद्धि हो

पुजारी बनना – जीवन में उन्नति हो

पुडिया बंधना – शारीरिक कष्ट बढे

पुरस्कार मिलना – हानि हो

पुल पार करना – धन लाभ हो

पुल टूटते देखना – संकट से छुटकारा हो

पूजा पाठ करना – सुख शान्ति तथा समृद्धि की सूचना

पूर्वज देखना – शुभ स्वप्ना , समृद्धि बढे

पूजा या प्रार्थना करना – मानसिक शान्ति मिले

प्रेम प्रस्ताव रखना – विवाह में विलंभ हो

पेड़ पौधे देखना – कार्य में लाभ हो

पेटी खोलना – चोरी की संभावना

पेशाब करना – संकट दूर हो , धनप्राप्ति हो

पेढा खाना – मुह में रोग हो

पैर कटे देखना – शत्रु पर विजय हो

पैर खुजलाना – यात्रा शीघ्र हो

पैबंद लगाना – कष्ट के पूर्व सूचना

पैसा मिलना – मुफ्त का धन मिले

पेन पेंसिल देखना – परीक्षा में उत्तीरण हो

पोचा लगाना – स्थान परिवर्तन हो

पोशाक पहनना – बीमारी आने का संकेत


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम