विवाह के लिये मन्त्र


तब जनक पाइ बसिष्ठ आयसु व्याह साज सवांरिके।
माडवी श्रुतकीरति उरमिला कुंअरि लई हवनाति के॥


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम