यह भी ध्‍यान में रखें


  • वजन बढ़ाने के व्यायाम के लिए एक निजी प्रमाणित ट्रेनर या एक प्रशिक्षक का चयन करें। वे आपकी दिनचर्या और वजन के साथ आपकी सबसे अच्छी मदद कर सकते हैं।
  • आमतौर पर, वजन बढ़ाने के व्यायाम में सीने कंधे, हाथ, पेट की मांसपेशी और पैरों को अधिक महत्व दिया जाता है। एक व्यायाम सेट में तय दोहराव, तकनीक और समुचित आराम का निश्चित पैटर्न होना चाहिए।
  • यदि आप अक्सर सोचते हैं, की आप पतले क्यों हैं, तो इसका कारण आपके शरीर के हार्मोन और थायरॉइड स्थितियों में निहित है। कुछ लोगों का चयापचय दर बहुत ही उच्च होता है, जो शरीर में वसा को जमने की अनुमति नहीं देता हैं। इस कारण से मांसपेशियों का निर्माण करना महत्वपूर्ण हो जाता है।
  • मांसपेशियों के फाइबर को आपका वजन बढ़ाने में मदद करने के लिए वसा की सही मात्रा संचय करने के लिए पर्याप्त सक्रिय रहने की जरूरत होती है। आपको बस एक सही व्यायाम तकनीकों को जानने के साथ अधिक खाने की भी जरूरत है।
  • वर्कआऊट्सके दौरान, अगर आप इसे पहली बार कर रहे हैं, तो आपके शरीर को कम से कम दो से तीन सप्ताह का समय इसे सुचारु करने में लग सकता है।
  • घर पर वजन बढ़ाने के व्यायाम वास्तव में प्रभावी हो सकता है, अगर उसका कर्मठता से पालन किया जाये। वजन बढ़ाने के लिए जल्दबाजी नहीं करना चाहिए। धीरज रखकर धीरे-धीरे वजन बढ़ायें।
  • वजन बढ़ाने वाले अन्य कृत्रिम स्वास्थ्य पुरक खुराकें जैसे गोलियों, पाउडर, दवाओं या अन्य अवैध पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए। यह सब बहुत अल्पकालिक लाभ देते है और स्थायी स्वास्थ्य के नुकसान का कारण भी बन सकते हैं।
  • सही और पौष्टिक भोजन बहुत आवश्यक है। व्यक्ति को एक दिन में कम से कम तीन से चार केले खाने चाहिए। दो अंडे के साथ केले का शेक पीना वजन बढ़ाने में मददगार साबित हो सकता है।
  • इसके अलावा उच्च कैलोरीवाले पदार्थ और अधिक प्रोटीन वाले खाद्य पदार्थों जैसे दही और लाल मांस को खायें। संतृप्त वसा से दूर रहें।


और पढ़ें
























2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम