सूरज की रोशनी में सूर्य नमस्कार


आपको अपनी लंबी दिनचर्या में सूर्य नमस्कार के लिए सुबह-सुबह समय निकालना चाहिए।

यदि आप दिन में दो सूर्य नमस्कार के आसन करते हैं तो आपका शरीर सक्रिय हो जाता हैं।

सूर्य नमस्कार का आमतौर पर कंधों और छाती पर अधिक प्रभाव पड़ता है।

सूर्य नमस्कार में 12 पॉजीशन होती हैं और आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप हर क्रिया कम से कम 5 सेकेंड के लिए जरूर करें।

सूर्य नमस्कार के लिए खड़े होकर नमस्कार की मुद्रा में आ जाएं। इसके बाद आप अपने शरीर पर दवाब डालते हुए अधिक से अधिक नीचे झुकने की कोशिश करें और अपने पैरों को छुएं।

इसके बाद आप सामान्य हो जाए फिर एक पैर को पीछे की तरफ करें और दूसरे को आगे की और कर अपना घुटना मोड़ लें और इसी पोजीशन में कुछ देर रहने की कोशिश करें।

सूर्य नमस्कार एक ऐसी प्रक्रिया है जो आपके शरीर में स्‍फूर्ति भरता है और स्वस्थ रूप से आपका वजन बढ़ाने में भी मदद करता है।


और पढ़ें
























2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम