नुख्सा 1




अश्वगंधा,चंद्रसूर दोनो को ही आयुर्वेद में शारीरिक विकास के लिए महत्वपूर्ण जडीबूटी माना गया है।

सामान 1- 20 ग्राम सूखी नागौरी अश्वगंध,

हालों या चंद्रसूर 2-30 ग्राम हलंग,हालों या चंद्रसूर ( Chansur, Halim, Haloon, Chandrasur , English Name : Common Cress, Watercress, Garden Cress )जो एक ही चीज के नाम है 3- 20 ग्राम देशी चीनी।

खीर बनाने की विधि- सूखी नागौरी अश्वगंधा को बारीक कूट-पीस लें। चंद्रसूर को साफ़ करके गाय के 250 ग्राम दूध मे हलकी आंच पर पका ले जब प्रैशर कूकर की एक सीटी बज जाए तब उतार कर बारीक किया हुआ अश्वगंधा व चीनी डाल कर ढक कर थोडा सेक लग्वा दें। यह खीर हर रोज रात को सोते समय खाएं व लगातार 45-60 दिन इसतेमाल करके नतीजा खुद देख लें ओर अपना अनुभव हमारे दर्शको के लिए हमारी वेब साईटपर भी पोस्ट कर देना


और पढ़ें
























2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम