शनि आपकी कुंडली में प्रभावों को बढ़ा देते हैं


यदि शनि आपकी कुंडली में उच्च स्थान पर बैठे हैं तो ये संबंधित स्थान के प्रभावों को बढ़ा देते हैं लेकिन अगर यह नीच स्थान पर बैठे हों तो जातक को उस स्थान से संबंधित क्षेत्रों में सचेत रहने की अवश्यकता होती है। शनि देव और शनि ग्रह लोक मानस में इतना रच-बस गए हैं कि जब-जब शनिदेव की बात चलती है तो वह शनि ग्रह पर केंद्रित होकर रह जाती है।

और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम