परिचय


शादी में देर एक बहुत ही सामान्य समस्या है | देर से शादी होने के परिणामस्वरूप कई बार उपयुक्त जीवन साथी नहीं मिल पाता | इस समस्या में ग्रह योगों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है | मेरे पास आने वाली लगभग सौ डेड सौ ईमेल में अधिकतम मैं पचास का ही उत्तर दे पाता हूँ | शादी कब होगी किस उम्र में होगी इस वर्ष शादी होगी या नहीं आदि प्रश्न बहुत लोग पूछते हैं | वास्तव में इन प्रश्नों का उत्तर एक मिनट कुंडली देखकर दिया नहीं जा सकता | इसके लिए सबसे पहले जन्म लग्न, नवमांश, होरा, षोडशवर्ग, नक्षत्र, ग्रह के अंश और विंशोत्तरी दशा अन्तर्दशा आदि का अध्ययन करना जरूरी होता है | इन सब में ज्यादा नहीं तो कम से कम बीस मिनट आवश्यक रहते हैं | जो लोग फीस देकर पूछते हैं उन्हें तो उत्तर दिया जा सकता है परन्तु वे लोग जो मुफ्त में जानना चाहते हैं उन्हें भी कुछ भी कहकर टाल देना मैं उचित नहीं समझता |

इस विषय में प्रस्तुत है कुछ ऐसे योग जिन्हें ज्योतिष का सामान्य ज्ञान रखने वाला व्यक्ति भी पढ़कर पता लगा सकता है कि शादी की उम्र क्या होगी | या अमुक व्यक्ति की शादी कब होगी अस्तु |

शादी में देर से यहाँ अभिप्राय उस समय से है जब आप शादी करना चाहते हो और कहीं कोई बात बन नहीं पा रही है | पुराने समय में जब बाल विवाह होते थे तब बीस की उम्र को बहुत अधिक माना जाता था |

कुंडली का सातवाँ घर बताता है कि आपकी शादी किस उम्र में होगी | शादी के लिए दिशा कौन सी उपयुक्त रहेगी जहाँ प्रयास करने पर जल्द ही शादी हो सके |

शुक्र बुध गुरु और चन्द्र यह सब शुभ ग्रह हैं | इन में से कोई एक यदि सातवें घर में बैठा हो तो शादी में आने वाली रुकावटें स्वत: समाप्त हो जाती हैं | अर्थात अधिक इन्तजार नहीं करना पड़ता परन्तु यदि इन ग्रहों के साथ कोई अन्य ग्रह भी हो तो शादी में व्यवधान अवश्य आता है | राहू मंगल शनि सूर्य यह सब अशुभ ग्रह हैं | इनका सातवें घर से किसी भी प्रकार का सम्बन्ध शादी या दाम्पत्य के लिए शुभ नहीं होगा | फिर भी भविष्यवाणी करने के लिए ग्रह और उनकी राशि स्थिति पर विचार करना आवश्यक होगा है |

अधिकतर लोग जिनकी कुंडली में शादी होने में कुछ बाधाएं आने का योग होता है ग्रह स्थिति निम्न प्रकार से होती है |


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम