क्या सब प्रश्नों का उत्तर जन्मकुंडली में नहीं है?


जिन लोगों के पास शादी के लिए काफी समय होता है कभी कभी वे अच्छे अच्छे रिश्ते छोटी सी कमी की वजह से ठुकरा देते हैं और जिनके पास समय नहीं होता वे पूरी तरह भाग्य पर निर्भर करते हैं |

रिश्ते की बात आगे बढाने से पहले का समय काफी उत्सुकता का होता है | जैसे कि बताई गई आमदनी में कितना सच है, उम्र देखने में ज्यादा लगने पर शक होना, कोई बीमारी वगैरह जो कि छुपाना आम बात है, कोई अफेयर तो नहीं है वगैरह वगैरह | भावी वर वधु के बारे में जानने के लिए जासूस की तरह पूछताछ की जाती है ताकि हर छोटी छोटी बात पता चल सके | हर तरह से छानबीन करने के बाद भी मन में कुछ दुविधा अवश्य रहती है कि कहीं सब कुछ दिखावा न हो | यहाँ भी कुदरत के बनाए भाग्य के सहारे वर वधु को सौंप दिया जाता है |


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम