निरंतर हानि हो रही है



यदि आपको निरन्तर हानि उठानी पड़ रहीं है तो प्रत्येक शनिवार को पीपल के एक नया पत्ते पर ऊँ लिखकर उस पत्ते को पीपल की लकड़ी के साथ धन रखने के स्थान पर रख दें। यह उपाय कम से कम 8 शनिवार तक करना होगा। कुछ समय में ही आपको लाभ होने लगेगा।

और पढ़ें













2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम