आपके व्‍यक्तित्‍व को बताते हैं नाखून




वैसे तो उंगलियां और नाखून सामुद्रिक शास्त्र के अंतर्गत ही आते हैं लेकिन, कुछ पाश्चात्य देशों में नाखून पर विशेष शोध किए गए हैं। माना जाता है कि मानसिक स्थिति के अनुसार नाखूनों में भी परिवर्तन होते रहते हैं और यही बनते हैं हमारे भविष्य की जानकारी का आधार। माना जाता है कि आकाश मंडल से उतरने वाली विद्युत ऊर्जा इन्हीं नाखूनों के द्वारा हमारे अंदर प्रवेश करती है। हमारे देश में भी बड़ों के चरणस्पर्श को नाखून से अपने हाथों के नाखूनों द्वारा ग्रहण करने का माध्यम माना जाता है।



और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम