व्यायाम के दौरान ठोढ़ी का दर्द के कारण


यदि आप व्यायाम के दौरान ठोड़ी दर्द का अनुभव करते हैं, तो इसके प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष दो कारण हो सकते है। ठोड़ी का प्रत्यक्ष या प्रारंभिक दर्द ठोड़ी के पास के कारकों की वजह से हो सकता है। वही ठोड़ी का अप्रत्यक्ष रूप में दर्द होना ये इंगित करता है कि शरीर में कुछ सही नहीं है। अप्रत्यक्ष दर्द तब तक नहीं होता, जब तक की आपको कोई चोट ना लगी हो। 

व्यायाम के अभ्यास के दौरान ठोड़ी दर्द के कारण-

दांतों को जकड़ना: कुछ लोग जब भी कोई शारीरिक काम को करते हैं, तो अपने दांतों को बहुत जोर से दबाते हैं। जिससे मसूड़ों और दाँत के नीचे की नसों पर दबाव पड़ता है। दाँत पीसने की इस आदत के कारण कई बार ठोड़ी में दर्द होता है।   

एनजाइना: एनजाइना एक ऐसी बीमारी है जिसमें दिल को ऑक्सीजन युक्त रक्त की आपूर्ति सही से नहीं होती। व्यायाम के दौरान ये समस्‍या बढ़ भी सकती है। एनजाइना के कारण अक्सर जबड़े में दर्द की समस्‍या बनी रहती है। यदी सीने का दर्द जबड़े तक बढ़ जाता है तो ऐसे में आपको तुरंत अपने चिकित्सक से जांच करवानी चाहिए। 

दिल का दौरा: यदि आप नियमित रूप से व्यायाम नहीं करते हैं और आपका वजन अधिक हैं, ऐसे में अचानक व्यायाम आपके दिल पर बहुत अधिक दबाव डाल सकता है। यदि जबड़े में दर्द छाती या कंधों से लेकर ठोढ़ी तक फैल रहा है, यह दिल का दौरा पड़ने का एक संकेत भी हो सकता है।

त्रिपृष्ठी तंत्रिकाशूल: त्रिपृष्ठी तंत्रिकाशूल एक तंत्रिका है जो कि सिर के पक्ष के साथ चलाता है, इसके किसी भी सूरत में नुकसान होने पर जबड़े में तेज दर्द की शिकायत हो सकती है। ऐसी समस्‍या होने पर नसों का दर्द चेहरे के एक तरफ रहता है और गाल या नाक तक पहुंच सकता है।

साइनस: यदि आपके ऊपरी जबड़े में दर्द हो रहा है तो यह अपने साइनस से संबंधित हो सकता है।

फोड़ा: कोई भी संक्रमण या फोड़ा ठोड़ी दर्द का कारण हो सकता है।

मौखिक समस्या: ठोड़ी दर्द किसी भी प्रकार के मौखिक समस्या के कारण भी हो सकता है। कई बार ये बुद्धि दांत निकलने की स्थिति में भी होता है।

मांसपेशियों में दर्द: मांसपेशियों में दर्द के कारण भी जबड़े में दर्द की शिकायत हो सकती है।

यदि आप ठोढ़ी दर्द के कारण के बारे में अनिश्चित हैं, तो ऐसे में आपको सतर्क होने की जरूरत है। ऐसे में डॉक्टर से सलाह जरूर लें।



और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम