संतुलित आहार वाले खाद्य-पदार्थ


जिस आहार में सभी पोषक तत्‍व शामिल होते हैं उसे संतुलित आहार कहते हैं। संतुलित आहार वो है, जो शरीर के कार्यो के लिए सभी महत्वपूर्ण और आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करे। हम जो भी खाते हैं उसका असर हमारे शरीर पर पड़ता है। जन्‍म के बाद खाद्य-पदार्थ हमारे विकास को निर्धारित करते हैं। यदि बचपन से ही खाने में संतुलित आहार मिले तो शरीर का विकास अच्‍छे से होता है।

जब हम खाना खाते हैं, तब हमारा शरीर पोषक तत्वों को खाने से निचोड़ कर शरीर को चलाने, उसके विकास, मांसपेशियों की मरम्मत और निर्माण के लिए ऊर्जा पैदा करता है। लेकिन सभी के लिए एक ही प्रकार का आहार संतुलित नहीं हो सकता क्योंकि हर किसी की शारीरिक जरूरतें अलग-अलग होती हैं।

बच्‍चे के लिए अलग प्रकार का आहार होगा और गर्भवती महिला के लिए अलग। उम्र बढ़ने पर पोषक तत्वों की जरूरतें फिर से बदल जाती हैं। सभी के लिए एक निश्चित संतुलित आहार की अवधारणा मौजूद नहीं है। आहार की जरूरत उम्र, लिंग, शरीर संरचना, काम के स्तर व गतिविधि के स्तर पर निर्भर करता है। जो लोग अपने काम और जीवन में संतुलन बनाए रखने की कोशिश करते हैं, उन्हें अपनी डाइट  चार्ट में इन आहार को शामिल करने की आवश्‍यकता है।

बैलेंस डाइट के लिए खाद्य-पदार्थ -

प्रोटीन -
संतुलित आहार में ऐसे खाद्य-पदार्थ जरूर शामिल कीजिए जिनमें प्रोटीन की भरपूर मात्रा हो। प्रोटीन हमारे शरीर का रॉ-मैटेरियल है, सेल्‍स के निर्माण के लिए प्रोटीन की जरूरत होती है। खासकर बच्‍चे को प्रोटीन की ज्‍यादा आवश्‍यकता होती है। शरीर को एनर्जी, तंदरुस्‍ती आदि प्रोटीन से मिलती हैं। युवावस्‍था और बुढ़ापे में प्रोटी की आवश्‍यकता कम हो जाती है। प्रोटीन के लिए - चना, दाल, बादाम, काजू, अनाज और मटर खाइए। इसके अलावा मांस, मछली, अंडे, दूध, पनीर, छाछ, फल, आदि में प्रोटीन में पर्याप्‍त मात्रा में पाया जाता है।


कैल्शियम -
कै‍ल्शियम दांतों और हड्डियों को मजबूत करता है। इसके अलावा यह हमारे शरीर की रंगत को निखारता है और बालों को घना और मजबूत करता है। कैल्शियम हरी सब्जियों, दूध, दही, छाछ, पनीर आदि में पाया जाता है।


आयरन -
शरीर में खून के लिए आयरन की आवश्‍यकता होती है। यदि बॉडी में आयरन की कमी हो जाती है तो खून का लालपन कम हो जाता है जिसके कारण खून शरीर के सभी हिस्‍सों तक जरूरी आक्‍सीजन नही पहुंचा पाता है। आयरन हरी सब्जियों, अनाज, रोटी, सेम, मटर की हरी फलियों और सूखे मेवे में पाया जाता है।

विटामिन -
विटामिन हमारे शरीर के विभिन्‍न आर्गन्‍स और फंक्‍शन्‍स को ऑपरेट करता है और उनको हेल्‍दी रखता है। चावल, गेंहूं, दूध से बने पदार्थ, मक्‍खन, फल, ताजी सब्जियां, नींबू, अंडा, टमाटर, मटर, सेम, दाल आदि में विटामिन पाया जाता है।


कार्बोहाइड्रेट -
यह ऊर्जा का एक स्रोत है। कार्बोहाइड्रेट चावल, गेंहूं, बाजरा, मीठे फल, आदि में पाया जाता है। कार्बोहाइड्रेट की कमी से कमजोरी और आलस्‍य आने लगता है। शरीर में यह तीन रूपों में होता है - स्‍टार्च, फाइबर और शुगर।


कैलोरी -
यह हमारे शरीर में गर्मी और शक्ति को मापने का पैमान है। भोजन करने से हमारे शरीर में गर्मी और शक्ति पैदा होती है, इसकी माप को कैलोरी कहते हैं। एक ग्राम प्रोटीन में लगभग 4 कैलोरी, एक ग्राम वसा में 9 कैलोरी और 1 ग्राम कार्बोहाइड्रेट में 4 कैलोरी पायी जाती है।


संतुलित भोजन वही होता है जिसमें शरीर के लिए जरूरी सभी पोषक तत्‍व मौजूद हों। इसलिए संतुलित भोजन करने से हमारा शरीर स्‍वस्‍थ रहता है और बीमारियां नही होती हैं।



और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम