जरूरी है विशेष सावधानी, जब किशोर जाएं जिम


आजकल किशोर अपने लुक्स को लेकर काफी सजग हो गए हैं। ऐसे में गुड लुक्स के लिए अपनी डाइट, स्पा पार्लर, ड्रेसिंग, एक्सेसरीज, सब ओर उनका रुझान बढ़ रहा है। इसी फेहरिस्त में जिम ने भी महत्वपूर्ण स्थान ले लिया है। जिम किशोरों के रूप को तो बेहतर बनाने में सहायक होता ही है, साथ ही उन्हें दुरुस्त भी रखता है, लेकिन थोड़ी सावधानी जरूरी है, बता रही हैं श्रुति गोयल

किशोरावस्था ऐसी अवस्था है, जिसमें जिम जाना शुरू किया जाए तो वह शरीर के लिए मजबूत नींव का काम करता है, लेकिन इसके विपरीत इस समय जिम की क्रियाओं से जुड़ी थोड़ी-सी लापरवाही भविष्य के लिए कई मुश्किलें भी खड़ी कर सकती है। आपको यह न कहना पड़े कि इससे तो जिम न जाना बेहतर था, इसके लिए आप शुरू में उसी जिम में जाएं, जहां आपको पर्सनल कोचिंग मिल सके और आपकी हर गतिविधि इंस्ट्रक्टर की निगरानी में हो। इससे आपका हर मूवमेंट परफेक्ट हो सकेगा और भविष्य में गंभीर रूप लेने वाली शारीरिक समस्याओं, मसलन पुलआउट, हड्डियों में तनाव आदि परेशानियों से आप बचेंगे।

और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम