भरपूर नाश्‍ता करने से मजबूत होती है महिलाओं की प्रजनन क्षमता


भरपूर नाश्‍ता करने की आदत आपको सेहतमंद बनाती है। इससे पहले कुछ शोधों से यह पता चला है कि सुबह के समय नाश्‍ता न करने की आदत आपको मोटा भी बना सकती है। एक नए अध्‍ययन से सामने आया है कि भरपूर नाश्‍ता करने से महिलाओं के मां बनने की संभावना बढ़ सकती है।

शोध में कहा गया है कि भरपूर नाश्‍ता करने से महिलाओं की उर्वरता संबंधी समस्‍या दूर होती है। शोध के मुताबिक सुबह के समय में व्‍यस्‍तता अधिक होने के कारण महिलाओं को नाश्‍ता करने का वक्‍त नहीं मिल पाता, जिसका सीधा असर उनकी प्रजनन क्षमता पर पड़ता है।

हीब्रू यूनिवर्सिटी ऑफ येरूशलम और तेल अवीव यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने बताया कि शाम की बजाय सुबह के वक्‍त अधिक कैलोरी वाला खाना प्रजनन से जुड़ी समस्‍याओं से निपटने में सहायक होता है। अनियमित माहवारी की परेशानी से जूझ रही महिलाएं अच्‍छे नाश्‍ते के जरिए अपनी प्रजनन क्षमता को बढ़ा सकती हैं।

शोध में इस बात की भी जांच की गई कि क्‍या खाने का समय पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम (पीसीओएस) के कारण माहवारी की समस्‍या से परेशान महिलाओं की उर्वरता पर कुछ असर डालता है या नहीं। पीसीओएस का असर छह से 10 फीसदी महिलाओं की प्रजनन क्षमता को प्रभावित करता है।

यह सिंड्रोम महिलाओं के शरीर में प्रतिरोधी इन्‍सुलिन बनाता है और माहवारी में अनियमितता, सिर के बाल कम होना, शरीर के बाल बढ़ना, मुंहासे और डायबिटीज का भी कारण होता है। शोध में 25 से 39 वर्ष तक की 60 महिलाओं को शामिल किया गया था। वॉल्‍फसन मेडिकल सेंटर में 12 सप्‍ताह तक चले इस शोध में पीसीओएस से प्रभावित महिलाओं को ही रखा गया था।

शोधकर्ताओं ने महिलाओं को दो समूहों में बांटा और उन्‍हें प्रतिदिन खाने में 1,800 कैलोरी दी। उन्‍होंने पाया, जो समूह सुबह अधिक कैलोरी ले रहा था, उनमें ग्‍लूकोज और प्रतिरोधी इन्‍सुलिन का स्‍तर आठ प्रतिशत तक कम हो गया। जबकि  दूसरे समूह में इस तरह का कोई अंतर नहीं दर्ज किया गया। जिसके आधार पर कहा गया कि सुबह में भरपूर नाश्‍ता करने का असर प्रजनन क्षमता पर पड़ता है।



और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम