पुरुष लिंग से जुड़ी बातें और जानकारियां


पेनिस अहम हिस्सा होता है आपके शरीर का। साथ ही झिझकने के बजाय मान भी लीजिए कि यह आपके लिए सबसे प्यारा भी है। बावजूद इसके, इससे जुड़ी ऐसी कई सारी जानकारियां हैं, जिससे आप वाकिफ नहीं हैं।
   
अहम हिस्सा
भारतीय पुरुषों के लिंग का औसत साइज (इरेक्ट/तना हुआ) 5.56 इंच है। रिकॉर्ड की बात करें तो इरेक्ट पोजिशन में सबसे लंबा लिंग 13.5 इंच का रहा है। एक सर्वे में 52% पुरुष अपने लिंग को और लंबा जबकि 32% लोग थोड़ा और मोटा देखना पसंद करते हैं।

स्मोकिंग से असर
धूम्रपान आपके सेहत के साथ-साथ आपके 'साइज' पर भी बुरा असर डालता है। स्मोक करने वाले व्यक्ति के लिंग का साइज औसतन 1 सेंटीमीटर कम हो जाता है। इतना ही नहीं, हद से ज्यादा स्मोकिंग और ड्रिंकिंग इरेक्टाइल डिस्फंक्शन भी पैदा कर सकता है। इसलिए अपनी खातिर न सही, अपने छोटे नवाब के लिए ही, स्मोकिंग को करें कम और हो सके तो छोड़ ही दें।

लैंगिक असमानता
बनाने वालों ने इस फील्ड में भी मर्दों के साथ नाइंसाफी की है। आपको पता है एक तरफ जहां पुरुषों का ऑर्गेजम मात्र 6 सेकंड तक के लिए होता है, वहीं महिलाओं में यह 23 सेकंड तक रहता है... ऊ.ला.ला...

लिंग का आकार ऐसा क्यों?
कभी सोचा है कि आपके लिंग का अगला हिस्सा ऐसा क्यों है? क्यों यह छाता की तरह दिखता है? आपको जानकर हैरानी होगी कि सेक्स के दौरान स्पर्म आपके साथी के प्राइवेट पार्ट से पूर्ण रूप से बाहर न निकले, उसी को रोकने में सहायक होता है आपके लिंग का ऐसा आकार। ऐसा इसलिए क्योंकि महिलाओं के प्राइवेट पार्ट में स्पर्म कई दिनों तक ऐक्टिव रहता है।

लिंग का है कमर से मजबूत रिश्ता
स्पाइनल कॉर्ड के तीन हिस्से आपके सेक्स लाइफ में अहम रोल अदा करते हैं। आपकी कल्पनाओं को स्पाइनल कॉर्ड ही दिमाग तक भेजता है, तभी होता है लिंग इरेक्ट। लिंग में लूब्रिकेंट का आना और इसके रिफ्लेक्सेज को बरकरार रखने के मेसेज को भी दिमाग तक आपका स्पाइन ही पहुंचाता है। वीर्य निकलने की क्रिया को भी आपका स्पाइनल कॉर्ड ही नियंत्रित करता है। तो है न स्पाइनल कॉर्ड आपके सेक्स लाइफ का भी बैकबोन।

अरोमा मैजिक
सेक्स में आपके परफ़ॉर्मेंस को बढ़ाता है मीठी-मीठी और भीनी-भानी सुगंध। लैवंडर की खुशबू से तो आपका सेक्स परफ़ॉर्मेंस 40% तक बढ़ जाता है। अब तो आपको समझ में आ ही गया होगा कि क्यों आपकी पार्टनर बेड पर आने से पहले अरोमैटिक कैंडल जलाने के लिए उत्साहित रहती हैं।


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम