नाशपति के रोग निवारक गुण




बारीश का मौसम आते ही लोग बीमार पड़ने लगते हैं | वायरल बुखार का रोग सबसे अधिक आक्रान्त करता है| इस मौसनम में लोगों को अपने खान-पान के मामले में ज्यादा सतर्कता बरतनी चाहिय| सेहत बनाए रखने में मौसमी फलों की महती भूमिका होती है| नाशपाती एक बारीश के मौसम का फल है जिसके सेवन से कई बीमारियों से निजात पाने में मदद मिल सकती है| इसमें कई तरह के औषधीय गुण पाए जाते हैं| बहुत से गुण तो सेव फल जैसे हैं| इसमें विटामिन,एन्जईम और पानी में घुलनशील फाईबर प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं|

नियमित रूप से नाशपती का रस पीने से आँतों के विकार दूर करने में मदद मिलती है| विषाक्त पदार्थों और रसायनों की वजह से बड़ी आंत की कोशिकाओं को होने वाले नुकसान से निपटने में नाशपती की अहम भूमिका हो सकती है|

नाशपती का जूस १०० मिली दिन में दो बार पीने से गले की खराश और कफ की समस्या ठीक हो जाती है| इसे खाने से शरीर का ग्लूकोज ऊर्जा में बदल जाता है| अत; जब भी थकावट महसूस हो नाशपती का जूस पियें| नाशपती का जूस बुखार के रोगियों में तापमान कम कर राहत पहुंचाता है |

ह्रदय की सुरक्षा करता है- नाशपाती में प्रचुर फाईबर होता है जिससे शरीर का कोलेस्ट्रोल कम होता है | नाशपाती जैसे रेशे समृद्ध फल नियमित खाने से हार्ट -स्ट्रोक की रिस्क ५० प्रतिशत तक कम हो जाती है|

नाशपती के नियमित उपयोग से छाती के केंसर की संभावना ३४ प्रतिशत तक कम हो जाती है|

नाशपती का फ़ल खूब खाएं। इसमें पाये जाने वाले रसायनिक तत्व से पित्ताषय के रोग दूर होते हैं।

केल्शियम की कमी से हड्डिया खोखली होने लगती हैं| नाशपाती में बोरोन तत्व पाया जाता है | इससे शरीर में केल्शियम का अवशोषण सरल हो जाता है | नाशपाती के सेवन से अस्थि भंगुरता समस्या से बचा जा सकता है|

गर्भवती स्त्रियों को फोलिक एसिड की जरूरत होती है \ फोलिक एसिड गर्भस्थ शिशु की जन्म जात विकृतियों से सुरक्षा करता है\ गर्भावस्था के दौरान फोलिक एसिड समृद्ध नाशपती फल के सेवन करने की सलाह दी जाती है|

नाशपती में पाया जाने वाला पेक्टिन तत्त्व कब्ज निवारक गुण रखता है| यह मूत्रल प्रभाव भी रखता है| नाशपती खाने से आंतों की जरूरी गतिशीलता बनाए रखने में मदद मिलती है| कब्ज पीडितों के लिए हितकारी है|

नाशपती में प्रचुर विटामिन सी ,कापर,विटामिन के पाया जाता है | इन तत्वों की मौजूदगी से त्वचा की झुर्रियों से बचाव होता है और बुढापे को आगे सरकाया जा सकता है|


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम