सर्दी अधिक लगना


परिचय :

सर्दी के मौसम में कुछ स्वस्थ व्यक्तियों को जरूरत से ज्यादा सर्दी लगती है। ऐसे लोग सर्दी के दिनों में अधिक ठंड़ न होने पर भी अधिक ठंड़ का अनुभव करते हैं। इसमें व्यक्तियों को ऐसे ठंड़ लगती है जैसे कि मलेरिया के रोग से ग्रस्त रोगी को अधिक ठंड़ लगती है।

विभिन्न औषधियों से उपचार:

लहसुन:

लगभग 10 से 30 बूंद लहसुन के रस की या 2 से 3 ग्राम की मात्रा में लहसुन के काढ़े को शहद के साथ रोजाना खाने से सर्दी के मौसम में लगने वाली आवश्यकता से अधिक सर्दी नहीं लगती है। इस काढ़े को पीने से सर्दी के कारण होने वाले रोग भी दूर रहते हैं।

स्पृक्का:

चौथाई से आधा चम्मच स्पृक्का का रस रोजाना दिन में 3 बार लेने से ठंड़ के कारण होने वाले सभी रोग ठीक हो जाते हैं और सर्दी का कम अनुभव होता है।

मरसा:

शरीर में अधिक सर्दी महसूस होने पर सफेद मरसा के बीजों को भूनकर खाने से सर्दी कम लगती है। सर्दी अधिक लगने पर इसके साग को भी खाने से सर्दी का प्रकोप कम हो जाता है।

अंजीर:

लगभग एक चौथाई से कम की मात्रा में अंजीर को खाने से सर्दी के कारण होने वाले दिल और दिमाग के रोगों में बहुत ज्यादा लाभ मिलता है।

कॉफी:

आवश्यकता से अधिक सर्दी महसूस होने पर कॉफी को पीने से शरीर में गर्मी का अनुभव होता है और सर्दी का प्रकोप शान्त हो जाता है।

केला:

पके केले में 4 बूंद शहद को मिलाकर रोजाना दिन में 2 या 3 बार खाने से आवश्यकता से अधिक ठंड़ महसूस होना बन्द हो जाती है।


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम