लिंग में वृद्धि


परिचय :

संभोग करने के लिए लिंग का छोटा या बड़ा होना ज्यादा मायने नहीं रखता है। कुछ लोग अपने लिंग को छोटा होने पर अपने दिमाग में कुछ हीन भावना बना लेते हैं। इससे वह मानसिक रूप से प्रभावित हो जाते है। ऐसी स्थिति में लिंग बढ़ाना आवश्यक हो जाता है।

विभिन्न औषधियों से उपचार:

लौंग

लौंग के तेल को शहर के ओलिव ऑयल में मिलाकर सुपारी को (लिंग का अगला हिस्सा) छोडकर मालिश करने से लिंग में वृद्धि हो जाती है।

कायफल

लिंग को मोटा करने और बढ़ाने के लिए कायफल को भैंस के कच्चे दूध में घिसकर या पीसकर लिंग पर रात को सोते समय लेप करें और सुबह गर्म-गर्म पानी से लिंग को धोने से लिंग मोटा और बढ़ जाता है।

उटंगन :

लिंग के बढ़ाने और मोटा करने के लिए उटंगन के बीज कूट-छानकर पानी में घिसकर लिंग पर प्रतिदिन 2 बार लेप करने से लिंग मोटा होता है।

इन्द्रजौ

लिंग को मोटा करने के लिए रात को सोते समय 7 ग्राम इन्द्रजौ को भैंस के कच्चे दूध में पीसकर 4 बार घोटकर हल्का गुनगुना लेप लगाकर ऊपर से कपड़ा बांध दें। सुबह उठकर गर्म-गर्म पानी से लिंग को धोने से लिंग मोटा और बढ़ जाता है।

मूसली

मूसली के चूर्ण को घी में मिलाकर लिंग पर लेप करने से लिंग बड़ा और मोटा हो जाता है।

हींग

हींग को पीसकर शहद में मिलाकर रात को सोते समय लिंग पर लगाने से लिंग की मोटाई बढ़ जाती है।


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम