मोटे लोगों के लिये आयुर्वेदिक गाईड लाईन


मोटे लोग खाने में बासमती चावल, बाजरा, हरे चने, लाल चने आदि का सेवन करे।

शहद मोटापे के उपचार तक ही सीमित रखे यह ओरिजनल होना चाहिये।

गरम पानी पीयें, ठंडे पानी का उपयोग बंद कर दें।

खाना पकाने में सरसों के तेल का उपयोग करें जिसमें हल्दी, अदरक, कालीमिर्च और नमक जैसे मसाले शामिल हो।

ऐसी सब्जियों का उपयोग करें जिनका स्वाद तोरा या कटुक हो।

सप्ताह में एक-दो दिन उपवास अवश्य रखें जिसमें फलों का रस ही सेवन करें। गर्म पानी व शहद का उपयोग भी कर सकते है।

रेड, केक, पेस्ट्रीज, डेयरी उत्पाद, मिठाई जो दूध पदार्थाें से बनी हो व शकर से बनी हो, को अपने उपयोग में न लाएँ।

कोल्डड्रिंक, अल्कोहल, तले-भूने पदार्थ व नाॅनवेज को भी बाय कहें।

जीवन का क्रियात्मक स्वरूप अपनाएँ, अधिक न बोलें, रात में पूरी नींद लें, दिन मंे न सोएँ, ठंडे पानी से नहाएँ, नहाने के पूर्व मालिश करें।

उपरोक्त सावधानियों को बरतने से आपका घटा हुआ वजन पुनः नहीं बढ़ेगा।

जिन लोगों का वजन बढ़ना प्रारंभ हो रहा है वे इन्हें अपनायेंगे तो वजन बढ़ना रूक जायेगा।


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम