कैंसर के इलाज में चमत्कारी असर करता है ये पौधा


कैंसर एक ऐसी भयावह बीमारी जिसके इलाज में वैज्ञानिकों द्वारा निरंतर रिसर्च जारी है, अभी भी इसके इलाज कीमोथेरपी में आने वाला खर्च भी रोगियों को आर्थिक रूप से मुश्किल में डाल रहा है। आज हम आपको हिमालयी क्षेत्र में मिलनेवाली एक ऐसी जड़ी का वीडियो दिखाने जा रहे हैं जिसकी पत्तियों एवं छाल की मदद से अमेरिका कैंसर की दवा पेसलीटेक्सेल बना रहा है। आप यह जानकर आश्चर्य में पड़ जायेंगे की यह जड़ी भारतवर्ष के हिमालयी क्षेत्र में थुनेर के नाम से जानी जाती है और इससे स्थानीय आदिवासी लोग थाकिल के नाम से चाय बनाने में प्रयोग करते रहे हैं।

अब आपको हम एक ऐसा सच बताने जा रहे हैं जो इस जडी से प्राप्त रसायन टेक्सोल के बारे में है। इसकी पत्तियों से प्राप्त टेक्सोल की कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाजार में लगभग तीन से चार करोड़ रुपये है। केवल इसकी खेती को उच्च हिमालयी क्षेत्रों में बढ़ावा देकर लोगों को आर्थिक समुन्नति दी जा सकती है ! वैसे भी आयुर्वेद के जानकार एवं स्थानीय लोग इसकी पत्तियों का प्रयोग गांठों के सूजन आदि को कम करने में सदियों से करते रहे हैं। वीडियो देखने के लिए लिंक पर जाएं।


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम