Untitled Document

यह भी होता है


यह एक देवदासी की आपबीती है. बात कुछ साल पहले की है. आंध्र प्रदेश का एक गांव, जहां जोगरी पैदा हुई और पलीबढ़ी. परिवार दलित और गरीब. प्रथम दरजे का अंधविश्वासी और अशिक्षित भी. पास के ही एक गांव से एक दिन वहांके मंदिर के पुजारी का आमंत्रण आया. आमंत्रण पुजारी ने एक नौकर के जरिए भिजवाया था. परिवार के साथ एक खास उत्सव में बुलवाया गया था. साथ में यह भी लिखा था कि देवता की कृपा हासिल करने के लिए मेरे मातापिता को चढ़ावे के रूप में अपनी 1 या 2 लड़कियों की देवता से शादी कर देनी चाहिए.

और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम