Untitled Document

सांप दूध पीते है




हमारे समाज में सांपो को लेकर कई तरह के अन्धविश्वास और भ्रम फैले हुए है। हमारा साहित्य, हमारी फिल्में और हमरी अंध धार्मिकता इनको कम करने की बजाय बढ़ाने का काम करती है। आज हम इस लेख में सांपो से जुड़ी हुई मान्याताओं और अन्धविश्वास को वैज्ञानिक द्रष्टिकोण से परखेंगे।

सांपो से जुडी हुई हमारी प्रथम मान्यता यह है कि सांप दूध पीते है। यहाँ तक की हम नाग पंचमी और अनेक अवसरो पर उन्हे दूध पिलाते भी है। तो क्या यह वैज्ञानिक द्रष्टिकोण से सही है ? इसका जवाब है, नहि। जीव विज्ञान के अनुसार सांप पूरी तरह से मांसाहारी जीव है, ये मेंढक, चूहा, पक्षियों के अंडे व अन्य छोटे-छोटे जीवों को खाकर अपना पेट भरते हैं। दूध इनका प्राकृति आहार नहीं है। सपेरों को जब भी सांप को दूध पिलाना होता है तो वो उन्हे भूखा प्यासा रखते है। भूखे प्यासे सांप के सामने जब दूध लाया जाता है तो वो इसे पी लेता है लेकिन यह कभी कभी सांप कि मौत का कारण भी बन जाता है क्योकि कई बार दूध सांप के फेफड़ों में घुस जाता है जिससे उसे निमोनिया हो जाता है।


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम