Untitled Document

मूर्ति पूजा




मूर्ति पूजा : हिन्दू धर्म में मूर्ति पूजा का प्रचलन कब शुरू हुआ यह कहना मुश्किल है। हिन्दू धर्म में इस प्रथा का प्रचलन प्राचीनकाल से ही रहा है, जो कि लोक परंपरा का हिंसा थी। शैव, शाक्त, नाथ, नाग आदि द्रविड़म संप्रदाय में इस प्रथा का शुरुआत से ही प्रचलन रहा है। सबसे पहले लोग नाग और यक्ष की पूजा करते थे।

महाभारतकाल में भी मूर्ति पूजा का प्रचलन था, लेकिन तब लोग शिवलिंग, विष्णु और दुर्गा की मूर्तियां बनाकर उनकी पूजा करते थे। पुराणों की रचना के बाद यह प्रचलन और बढ़ा। जैन और बौद्ध काल में इस प्रथा ने व्यापक रूप लिया। हिंदुओं ने भी अपने देवताओं की मूर्ति बनाकर उनकी पूजा करना शुरू की और इस तरह यह प्रचलन में आ गई। बाद में लोग, झाड़, वृक्ष, नदी और पशुओं की पूजा भी करने लगे।


और पढ़ें

2017 मिर्ची फैक्ट्स.कॉम